साहिबा फिल्म वी का सरप्राइज पैकेज : अदिति राव हैदरी


अभिनेत्री अदिति राव हैदरी ( Aditi Rao Hydari ) की फिल्म वी को भी कोविड-19 महामारी ( Covid-19) के कारण लगाए गए प्रतिबंधों की वजह से ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज किया गया है। तेलुगू, तमिल, मलयाली और कन्नड़ भाषाओं में रिलीज हुई यह फिल्म दर्शकों को खूब पसंद आ रही है। फिल्म में सुधीर बाबू, अदिति राव हैदरी, नानी और निवेथा थॉमस जैसे कलाकारों की दमदार प्रस्तुति देखने को मिली है। अदिति ने फिल्म व अपने किरदार से जुड़े कुछ मुद्दों पर बात की हैं।

सबसे पहले फिल्म वी के ट्रेलर में उनके द्वारा निभाए गए किरदार साहिबा को न दिखाए जाने के बारे में पूछे जाने पर अदिति ने कहा, साहिबा के किरदार को ट्रेलर में न दिखाया जाना पहले से ही तय था। फिल्म में साहिबा का किरदार काफी अहम है क्योंकि विष्णु (नानी द्वारा निभाया गया किरदार) और साहिबा की लव स्टोरी से इसमें कहानी का अनावरण होता है, तो अगर ट्रेलर में वही दिखा दिया जाता है, तो फिर इसकी वह अहमियत नहीं रहती। यह किरदार फिल्म का सरप्राइज पैकेज है।

अदिति ने कहा कि उन्हें इस बात की उम्मीद थी कि दर्शकों को विष्णु और साहिबा की लव स्टोरी पसंद जरूर आएगी, लेकिन लोग इसे इतना पसंद करेंगे, इसकी उन्हें उम्मीद नहीं थी।

फिल्म को चुने जाने के सवाल पर अदिति कहती हैं, मैंने इस किरदार को करने के लिए इसलिए हांमी भरी क्योंकि मुझे इसकी लव स्टोरी बेहद अच्छी लगी। यह बेहद खूबसूरत है। एक ऐसी प्रेम कहानी जिसे देखने की तमन्ना लोग अंत तक रखते हैं। इसके अलावा मैंने मोहन सर (फिल्म के निर्देशक मोहन कृष्णा इन्द्रगंती) के साथ पहले भी काम किया है। फिल्म सम्मोहनम के माध्यम से वह मुझे तेलुगू में पहले भी पेश कर चुके हैं, तो यह मेरा उनके साथ दूसरा सहयोग है।

You Must Read This :  Karan Johar की एक बार फिर बढ़ी मुसीबतें, आमिर खान के भाई ने निर्देशक लगाए कई गंभीर आरोप

फिल्म में नानी के साथ काम करने के अपने अनुभव पर अदिति ने कहा, नानी एक बहुत अच्छे इंसान हैं और एक बहुत उम्दा कलाकार हैं। मुझे उनसे काफी कुछ सीखने को मिला। वह बेहद प्रेरणादायक रहे। सिनेमा के लिए उनमें गजब का जुनून है। एक कलाकार के तौर पर मुझे फिल्म की पूरी टीम के साथ काम कर काफी मजा आया।

बॉलीवुड और दक्षिण भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में काम करने को लेकर पूछे जाने पर अभिनेत्री ने कहा, मुझे लगता है कि कोई भी इंडस्ट्री या फिल्म लोगों से मिलकर ही बनती है। मेरा प्रयास यही रहता है कि मैं अच्छे लोगों के साथ काम करूं , उनके साथ काम करना जारी रखूं जो कालातीत फिल्में बनाने की चाह रखते हैं जिनसे मुझे सीखने को मिले, तो भाषा कोई भी मायने नहीं रखती है बल्कि लोग मायने रखते हैं।

ओटीटी पर आजकल फिल्मों की रिलीज पर अपनी राय साझा करते हुए अदिति ने आगे बताया, मैं थिएटर को काफी मिस कर रही हूं। फिल्म वी के लिए भी मैं बेहद उत्साहित थी कि यह जब रिलीज होगी, तो हम लोग फर्स्ट डे फर्स्ट शो देखेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। बहरहाल, दर्शकों से फिल्म को इतना सहराया जा रहा है जिसे देखते हुए अब हमें कोई शिकायत नहीं है। हम सभी बेहद आभारी हैं।





Source link

Posts You May Love to Read !!

Leave a Comment